केंद्रीय सरकार द्वारा शुरू की गई प्रधानमंत्री आवास योजना एक महत्वकांशी योजना है। इस योजना के तहत सरकार ने यह तय किया है की देश के सभी शहरी और ग्रामीण गरीब परिवार के लोगो को आवास उपलब्द करवाया जाये जिसके लिए सरकार लोगो को एक निश्चित सहायता राशि प्रदान करेगी। केंद्रीय सरकार का मुख्य उद्देश्य यह है कि इस योजना के माध्यम से सभी शहरी और ग्रामीण गरीब लोगो को आवास दिया जाये। यह आवास उन लोगो को दिया जायेगा जिनके पास रहने के लिए अपना घर नहीं है या फिर वह लोग जो कच्चे घरो मे रहते है।

इस लेख के माध्यम से हम आपको प्रधानमंत्रीग्रामीण आवास योजना के बारे मे बताएँगे कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आप को अपना घर कैसे मिलेगा। लाभार्थी का चयन कैसे किया जायेगा, इतना ही नहीं आप को यह भी बताया जायेगा की आप के आवास निर्माण की राशि आप के बैंक खाते मे कैसे आएगी, आप का आवास किस प्रकार से बनेगा, आवास निर्माण मे कितना समय लगेगा इत्यादि।
सबसे पहले हम आप को यह बताते है कि प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत लाभार्थी का चयन कैसे किया जायेगा। सरकार लाभार्थियों का चयन सामाजिक आर्थिक और जाति (SECC-2011) के आकड़ो के आधार पर करेगी। जिसमे यह देखा जायेगा की किसको आवास की आवश्यकता है और किसको नहीं।  सभी चयन प्रक्रिया को पूरा करने के बाद सरकार एक लिस्ट जारी करेगी जिसे ग्राम प्रधान को दिया जायेगा।  जिसमे यह बताएगा जायेगा की किसके नाम से आवास आया है।
इस योजना से सम्बंधित लोगो के कई प्रकार के प्रश्न आते है जैसे कि, प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट कैसे देखें, यदि लिस्ट मे नाम नहीं है तो क्या करे। यदि आप योजना का लाभ लेने के योग्य है और आप का नाम लिस्ट मे नहीं है तो आप कैसे आवेदन कर सकते है,  निर्माण राशी कैसे मिलेगी, आवास किसके नाम से बनेगा, कितना समय लगेगा इत्यादि।
सबसे पहले हम आप को बता दे कि आप अपना प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लिस्ट मे कैसे सर्च कर सकते है।  लिस्ट मे नाम जाँचने के लिए आपको सबसे पहले प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण की अधिकारिक वेबसाइट http://pmayg.nic.in पर जाना होगा। आगे की प्रक्रिया निचे दिए गए लिंक के माध्यम से जाँच सकते है।
प्रधानमंत्री आवास राशि आपको कब और कैसे प्राप्त होगी:-
प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत चयनित लाभार्थी को के निश्चित तोर की राशि प्रदान की जाएगी। जिसमे मैदानी इलाके मे रहने वाले लोगो को 1.20 लाख रूपए की सहायता राशि प्रदान की जाएगी वही पर्वतीय और दुर्गम इलाके मे रहने वाले लोगो को 1.30 लाख रूपए की सहायता राशी प्रदान की जाएगी। आवास की राशि पाने के लिए लाभार्थी को अपना पंजीकरण करवाना होगा जिसके लिए उसको अपना नाम, पता बैंक खता, मनरेगा जॉब कार्ड नंबर आदि प्रदान करना होगा।
इस योजना के अनुसार, यह राशि तीन किश्तों में उपलब्ध कराई जाएगी। लाभार्थी को पहली क़िस्त आदेश जरी होने की तारीख से एक हफ्ते के भीतर लाभार्थी के पंजीकृत बैंक खाते मे जमा करवा दी जाईगी। बता दे कि लाभार्थी को आवास का निर्माण स्वयं करवाना होगा।
प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत कैसे बनेगा आप का आवास
आवास निर्माण प्रक्रिया निम्नलिखित चरणों के द्वारा कि जाएगी:- 
पहली क़िस्त :-
  • आवास स्वीकृति
  • नीव रखना
दूसरी क़िस्त:-
  • कुर्सी क्षेत्र
  • विन्डोसील
तीसरी क़िस्त:-
  • लिंटेल
  • रूफ कास्ट
  • समापन
इस प्रिक्रिया के दौरान आवास की जिओ टैगिंग की जाएगी जिसके आधार पर आवास निर्माण की अगली राशि निस्तारित की जाएगी।  और आवास निर्माण पर निगरानी राखी जाएगी।
यदि आप का नाम प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण लिस्ट मे नहीं है तो आप ग्राम प्रधान के द्वारा या CSC के माध्यम ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।